IND vs PAK Test Match At MCG: भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) के बीच सीमा के तनाव के चलते लंबे समय से कोई भी क्रिकेट सीरीज नहीं हुई है. पिछले 15 साल से दोनों टीमों के बीच एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला गया है. ये दोनों अक्सर सिर्फ आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में भिड़ते हैं. हालांकि अब भारत और पाकिस्तान के बीच एक टेस्ट मैच के आयोजन की खबरें आ रही हैं. ऐसे में ये क्रिकेट फैंस के लिए एक बड़ी बात होगी की भारत और पाकिस्तान क्रिकेट के मैदान पर एक बार फिर आमने-सामने होंगे. खास बाद ये है कि दोनों टीमों के बीच टेस्ट मैच करवाने के लिए एक देश आगे आया है.

ये देश मेजबानी के लिए तैयार

ईएसपीएन क्रिकइन्फो की रिपोर्ट के मुताबिक, मेलबर्न क्रिकेट क्लब और विक्टोरियन सरकार ने भारत-पाकिस्तान के बीच टेस्ट मैच की मेजबानी के बारे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से अनौपचारिक पूछताछ की है. अक्टूबर में भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए टी20 वर्ल्ड कप मुकाबले की सफलता के बाद ये बड़ा फैसला लिया गया है. आपको बता दें कि इस मैच को देखने के लिए 90,293 फैंस स्टेडिम में पहुंचे थे. ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच दूसरे टेस्ट के चौथे दिन एसईएन रेडियो पर बोलते हुए, एमसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टुअर्ट फॉक्स ने खुलासा किया कि क्लब और साथ ही विक्टोरिया सरकार ने न्यूट्रल वेन्यू टेस्ट की मेजबानी के बारे में सीए से पूछताछ की थी.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रवक्ता ने दी ये जानकारी

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एक प्रवक्ता ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो को बताया, ‘यह दोनों देशों पर निर्भर करेगा कि वह किस पर सहमत हों. लेकिन अगर न्यूट्रल वेन्यू पर भारत और पाकिस्तान के बीच एक टेस्ट होता है, तो हम निश्चित रूप से ऑस्ट्रेलिया में इसकी मेजबानी करने के अवसर में रुचि लेंगे. वर्ल्ड कप के लिए यहां दोनों टीमों के समर्थक अद्भुत थे और विशाल बहुमत के वह प्रशंसक ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं.’ ऐसे में ये साफ है कि होनों टीमों के बीच टेस्ट मैच खेलने का आखिरी फैसला BCCI और PCB के हाथों में ही रहने वाला है.

2012 में आखिरी बार हुई थी सीरीज 

दरअसल भारत और पाकिस्तान के बीच लगातार सीमा पर तनाव की स्थिती रहती है. जिसके चलते भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) के बीच आखिरी बार साल 2012 में सीरीज खेली गई थी, तब पाकिस्तान ने भारत का दौरा किया था और दोनों टीमों के बीच तब तीन टी20 और इतने ही मैचों की वनडे सीरीज खेली गई थी. उसके बाद से कभी भी ये दोनों देश आमने-सामने नहीं आए हैं. हालांकि दोनों देश लगभग हर आईसीसी टूर्नामेंट में एक-दूसरे का सामना करते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *