सिर्फ एक ओवर की वजह से खत्म हुआ इस भारतीय खिलाड़ी का करियर, फिर मजबूरी में लेना पड़ गया संन्यास!

आपकी एक गलती आपको ‘अर्श से फर्श तक’ ला सकती है. एक इंडियन गेंदबाज़ के साथ ऐसा ही हुआ. एक ओवर में पांच छक्के खाने के बाद उसको टीम में दोबारा खेलने का कभी मौका नहीं मिला और मजबूरी में उसे संन्यास लेना पड़ा. एक अच्छाई या बुराई आपकी ज़िंदगी के फैसले कर देती है. हम आपको उसी क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं.

इस क्रिकेटर का खत्म हुआ करियर

साल 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए एक टी20 मैच में स्टुअर्ट बिन्नी ने 6 गेंदों पर 5 छक्के खा लिए थे, इसके बाद दुबारा टीम में उनकी वापसी नहीं हो सकी थी और मजबूरी में स्टुअर्ट को संन्यास लेना पड़ गया था.

इस मैच में हुआ था ये करनामा

27 अगस्त साल 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए एक मैच में स्टुअर्ट बिन्नी(STUART BINNY) के उपर वेस्टइंडीज के खिलाड़ी एविन लुईस(EVIN LEWIS) ने 6 गेंदों पर पांच छक्के जड़ दिए. बिन्नी के इस ओवर में कुल 32 रन आए थे. पांच छक्कों के साथ एक वाइड और एक सिंगल जोड़कर 32 रन खर्च किए थे. स्टुअर्ट बिन्नी (STUART BINNY) टीम के ऑलराउंडर थे. साल 2016 का वो मैच बिन्नी के करियर का आखिरी टी20 मैच साबित हुआ. इसके बाद उन्हें टीम में जगह नहीं मिली और अगस्त साल 2021 में बिन्नी ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहे दिया था.

हार्दिक पांड्या के टीम में आ जाने के बाद बिन्नी के पास कुछ बचा भी नहीं था. हार्दिक ने अपने करियर की शुरुआत में बहुत अच्छा करके ही टीम में जगह बनाई थी. आज हार्दिक पांड्या ने अपने आप को इस मुकाम पर ला कर खड़ा कर लिया है कि उन्हें टीम की कप्तानी दे दी गई है.

इंडिया के लिए सबसे शानदार रिकॉर्ड

साल 2014 में स्टुअर्ट बिन्नी ने बांगलादेश के खिलाफ एक मैच में सिर्फ 4 रन देकर 6 विकेट अपने नाम किए थे. इंडिया टीम के लिए अभी तक यह सबसे शानदार रिकॉर्ड है. इससे पहले अनिल कुंबले ने साल 1993 में 12 देकर 6 विकेट अपने नाम किए थे.

बिन्नी ने अपने करियर में इंडिया के लिए 6 टेस्ट मैचों में 194 रन बनाएं और 3 विकेट लिए. वनडे क्रिकेट में 14 मैच खेलकर 230 रन बनाएं और 20 विकेट हासिल किए. इसके अलावा 3 टी20 मैचों में उन्होंने 35 रन बनाएं और एक विकेट अपने नाम किया

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.