रेलवे ने तैयार किया चलता फिरता होटल गजब खासियत के साथ, विशेषता जान चौक जाएंगे आप ,पढ़िए पूरी जानकारी

ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों के लिए खुशी देने वाली जानकारी केंद्र सरकार ने दिया है देश में बनी देश की सबसे आधुनिक सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत ट्रेन को सरकार अब देश के ज्यादा से ज्यादा हिस्सों में चलाने की कोशिश कर रही है वंदे भारत अभी देश की सबसे आधुनिक के साथ साथ सबसे तेज ट्रेन भी है इसमें यात्रियों को हाई क्लास सर्विस मिलती है और खाना भी काफी अच्छा होता है इस ट्रेन को सीट को खास प्लेन जैसा कंफर्ट देने के लिए बनाया गया है इसकी रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटा है यह ट्रेन बहुत दूरी वाले मंजिल पर भी कुछ घंटों में पहुंचा देती है दूसरी ट्रेनें जिस सफर को 12-13 घंटों में में करती है वही वंदे भारत उतने सफर को मात्र 7-8 घंटे में पूरा कर देती है सरकार वंदे भारत को मध्यप्रदेश के इंदौर से शुरू करना चाह रही है । केंद्र सरकार पूरे देश को इस ट्रेन से कवर करने की योजना पर काम कर रही है। इसी कड़ी में इंदौर को भी शामिल किया गया है,अभी तक इसमें असमंजस था लेकिन अब ये तय हो चुका है वंदे भारत अब म.प्र के इंदौर से भी रफ्तार भरेगी।

लोक सभा सदस्य संसद शंकर लालवानी ने योजना में इंदौर में नाम पर जो असमंजस था उसको खतम कर दिया है और साफ पुष्टि कर दी है की ट्रेन इंदौर से चलेगी फिलहाल इस साल सरकार 100 ट्रेनें चलाने का सोच रही है । सेंट्रल बूढ़े में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने अगले तीन साल में देशभर में 300 वंदे भारत ट्रेन चलाने की घोषणा पहले ही की हैं। पहले साल 100 ट्रेनें चलेगी। पिछले दिनों इंदौर आए रेलवे जीएम अनिल कुमार लाहोटी ने भी इंदौर से ट्रेन चलने के कुछ संकेत दिए थे जो अब पूरी तरह से स्पष्ट हो गया है।

वंदे भारत ट्रेन को इंदौर से चलाने में एक साल का समय लग सकता है क्युकी इसकी रफ्तार दूसरी अन्य ट्रेनों से ज्यादा होती है और इसके लिए मजबूत ट्रैक बनवाना होगा साथ ही ट्रैक का दोहरीकरण करना बिलकुल सही रहेगा । 110 किलोमीटर प्रतिघंटा ट्रैक की क्षमता है। इस पर 130 से 140 किलोमीटर तक रफ्तार आराम से हो सकती है । वंदे भारत 180 तक की हाइस्पीड पर चलने में सक्षम है जिसके लिए ट्रैक को और मजबूत करना होगा माना जा रहा है की रतलाम से ट्रेन की रफ्तार में काफी तेजी आएगी इस प्रोजेक्ट को पूरा होने में लगभग एक साल लगेगा क्युकी ट्रेन के लिए मजबूत ट्रैक बनाने का कार्य काफी समय लेगा सरकार इस साल तक इंदौर के जनता को ये बड़ी सौगात दे सकती है जिससे यात्रियों को यात्रा में काफी आराम भी मिलेगा और साथ ही यात्रा भी जल्दी पूरी होगी।

इंदौर से दिल्ली मुंबई की हो रही है बात

इंदौर से यात्री ज्यादा सफर दिल्ली मुंबई जैसे शहरों में करते है ऐसा में सरकार हाई डिमांड देखते हुए ट्रेन को इंदौर से दिल्ली और मुंबई तक दौड़ने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है दोनों बड़े शहरों से कनेक्टिविटी करना भी बहुत जरूरी है । रेलवे ने दिल्ली के लिए स्पेशल ट्रेन भी चलाई है। ऐसे में वंदे भारत ट्रेन से इंदौर की दो बड़े शहरों से अच्छी कनेक्टिविटी होने के साथ ही यात्रियों को ए क्लास की लक्सरियस सुविधा भी मिलेगी और उनकी यात्रा एकदम आरामदायक रहेगी फिलहाल वंदे भारत वाराणसी से दिल्ली और दिल्ली से जम्मू कटरा तक चल रही है।

पांच सितारा होटल जैसे है सुविधा टेक्नोलॉजी भी है कमाल

वंदे भारत ट्रेन एक बहुत ही हाई क्लास लक्जरियस ट्रेन है इसमें यात्रियों को होटल जैसी सुविधा दी गई है साथ ही इस ट्रेन में कई एडवांस फीचर है जो यात्रियों को और आराम देते है।इसमें ऑटोमैटिक सेंसर दूर है यानी ये डोर ह्यूमन को सेंस करते ही अपने आप खुल जाते है साथ ही बंद भी हो जाते है।इस ट्रेन में है प्लेन जैसी लक्जरी कंफर्ट सीट जो यात्रियों को प्लेन में बैठे होने का अलग अनुभव करती है

टचलेस बाथरूम इस समय जहा covid के वजह से लोग चीजों को छूने से बच रहे है ये फीचर उनकी काफी मदद कर रहा है इसमें किसी भी यात्री को टायलर जाते समय दरवाजे छूने की कोई जरूरत नही है दूर ऑटोमैटिक खुल जाते है।

17 फरवरी 2019 को भारी थी पहली रफ्तार

15 फरवरी 2019 को इस ट्रेन को सरकार ने जनता को समर्पित किया था जिसके बाद 17 फरवरी 2019 को इस ट्रेन ने पहली बार दिल्ली से प्रधानमंत्री के सांसदी छेत्र वाराणसी के लिए रवाना हुई थी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.